राजनांदगांव : स्वच्छता ऐप डाउनलोड करें और जुट जाए नगर को सुंदर बनाने - ऑडिटोरियम में आयोजित हुआ स्वच्छता सम्मेलन

-कलेक्टर ने कहा यूजर चार्ज शहर को सुंदर बनाने,

आम जनता की भागीदारी से निखरेगी शहर की रौनक

                राजनांदगांव 12 अक्टूबर 2017

अपने स्मार्ट फोन में स्वच्छता ऐप डाउनलोड करें और नगर की सूरत निखारने जुट जाइये। स्वच्छता ऐप में आप किसी भी सार्वजनिक जगह पर गंदगी देखते हैं तो उसकी फोटो अपलोड कर दें, यह सीधे एडमिन राजनांदगांव नगर निगम के पास पहुंच जाएगी और नियत अवधि में उस जगह की साफ-सफाई के लिए दस्ता पहुंच जाएगा। स्वच्छता ऐप और स्वच्छता के लिए चलाये जा रहे ऐसी गतिविधियों को लेकर आम जनता के साथ संवाद के क्रम में स्वच्छता सम्मेलन का आयोजन हुआ। इसमें नगर निगम के सभापति श्री शिव वर्मा, कलेक्टर श्री भीम सिंह एवं नगर निगम के कमिश्नर श्री अश्विनी देवांगन उपस्थित थे। उन्होंने व्यावसायिक समूहों के प्रतिनिधियों, नगर के प्रबुद्ध नागरिकों से चर्चा की। सभापति ने कहा कि नगर की सुंदरता नगर निगम प्रशासन के साथ ही नागरिकों की जागरूकता पर भी निर्भर रहती है। नागरिक समुदाय के सहयोग से ही किसी शहर की सूरत निखरती है। आप स्वच्छता के क्षेत्र में जितने सजग होंगे, इसका लाभ शहर को ही होगा। इस अवसर पर कलेक्टर ने कहा कि स्वच्छता ऐप के बड़े फायदे हैं। इस पर अपनी सूचना डालकर आप शहर को सुंदर बनाने के महती अभियान में शामिल हो सकते हैं और अपना बड़ा योगदान दे सकते हैं। इसमें किसी तरह की मशक्कत भी नहीं करनी होती, केवल अपने स्मार्ट फोन के स्वच्छता ऐप में फोटो  डालनी है। इसकी लोकेशन ट्रेस हो जाएगी और फिर इसके बाद सफाई अमला अपना काम शुरू करेगा। उन्होंने कहा कि शासन ने बेहतर सफाई व्यवस्था के लिए और नागरिकों की समस्याओं के समाधान के लिए निदान 1100 भी शुरू किया है इसमें अपनी समस्याओं को बता सकते हैं। इस पर निश्चित समयावधि में कार्रवाई की जाती है। नगर निगम कमिश्नर ने नागरिक समुदायों से नगर की सूरत निखारने के संबंध में सुझाव मांगे। उन्होंने कहा कि स्वच्छता सम्मेलन जैसे आयोजनों से हमें अमूल्य विचार मिलते हैं जो शहर को स्वच्छ, सुंदर बनाने में काफी उपयोगी होते हैं।

यूजर चार्ज शहर को सुंदर बनाने आवश्यक-

                कलेक्टर ने लोगों से कहा कि यूजर चार्ज आपके शहर को सुंदर बनाने के लिए है। इसके माध्यम से शहर को स्वच्छ बनाये रखने राशि जुटाई जाती है। शहर की स्वच्छता से सुंदरता तो निखरेगी ही, स्वच्छ शहर में बीमारियां भी कम पनपती हैं। देश भर में जो शहर सबसे सुंदर होते हैं। वहाँ लोग बसना भी पसंद करते हैं। वहां व्यापार बढ़ता है और इसका लाभ सबसे अधिक मूल निवासियों को होता है। उन्होंने कहा कि सरकार अच्छा काम करने वाले नगरीय निकायों को काफी प्रोत्साहन देती है। यदि स्वच्छता सर्वेक्षण में राजनांदगांव नगरीय निकाय बेहतर करता है तो सरकार द्वारा यहां अतिरिक्त कार्य स्वीकृत किए जा सकते हैं जिससे शहर की सूरत और निखरेगी।

क्रमांक 1624                                                       ----------------------                           सौरभ

 

 


Secondary Links