नारायणपुर : कलेक्टर श्री टोपेश्वर वर्मा ने ली अधिकारियों और पटाखा व्यवसायियों की बैठक

संवेदनशील क्षेत्रों के 100 मीटर दूरी तक पटाखे न फोड़े जाये

                                नारायणपुर 12 अक्टूबर 2017

कलेक्टर श्री टापेश्वर वर्मा ने लोगों से पर्यावरण प्रदूषण के रोकथाम में सहयोग और प्रदूषण मुक्त दीवाली मनाने की अपील की। कलेक्टर श्री टोपेश्वर वर्मा ने इस सिलसिले में कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में विभिन्न जिला अधिकारियों, शांति समिति के सदस्यों और स्थानीय पटाखा व्यवसायियों की बैठक ली। श्री वर्मा ने आगामी दीवाली को ध्यान में रखकर अधिक आवाज वाले पटाखे पर अंकुश लगाने और ध्वनि प्रदूषण को रोकने के लिए प्रभावी कदम उठाने के संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये। बैठक में नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती वेदवती पात्र, अनुविभागीय दण्डाधिकारी श्रीमती निधि साहू और पुलिस विभाग के अधिकारी एवं विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी  और शांति समिति के सदस्य उपस्थित थे।

                                कलेक्टर श्री टोपेश्वर वर्मा ने लोगों से अपील की है कि वे पटाखे रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक पटाखे न फोड़े। अतिसंवेदनशील क्षेत्रों जैसे अस्पताल, शिक्षक संस्थाएं, अदालत, धार्मिक संस्थाएं आदि के कम से कम 100 मीटर की दूरी पर पटाखे न फोड़े जाये। श्री वर्मा ने बैठक में 4 मीटर की दूरी तक 125 डीवी (ए.आई.) या 145 डीवी (सी) से अधिक शोर करने वाले पटाखे की ब्रिकी और इस्तेमाल को प्रतिबंध करने के निर्देश दिये। कलेक्टर श्री वर्मा ने विद्यार्थियों को ध्वनि प्रदूषण और वायु प्रदूषण के बारे मंे और पटाखों के नुकसान के बारे में बताये जाने के निर्देश दिये। श्री वर्मा ने दीपावली त्यौहार पर किसी भी घटना या दुर्घटना की आशंका देखते हुए अस्पताल में डॉक्टर, स्टॉफ, के साथ एम्बुलेंस की व्यवस्था करने के जरूरी निर्देश दिये। बिजली विभाग अधिकारियोें को निर्देशित किया कि यह सुनिश्चित करें कि दीपावली पर बिजली न जाये। फायरब्रिगेड़ के अधिकारियों को सर्तक रहने और पुलिस के अधिकारियों से कहा कि समय-समय पर पेट्रोलिंग करते रहे और भीड़ भरे बाजारों मंे सड़क पर जाम न लगने पाये यह ध्यान रखा जाये ताकि लोगों को किसी भी प्रकार की परेशानी न हो। कलेक्टर श्री टोपेश्वर वर्मा ने पटाखा व्यावसायियों से अपनी दुकाने गत वर्ष की भांति खुले मैदान में पूरी सुरक्षा के साथ लगाने के निर्देश दिये। उन्होंने पटाखा दुकाने किसी भी कीमत पर रिहायसी इलाकों या घने आवासीय क्षेत्रों में न लगाने को कहा। उन्होंने पटाखा दुकानदारों से लगायी जाने वाली दुकानों के आप-पास और त्यौहार के समाप्ति के बाद साफ-सफाई पर विशेष बल दिया। 

पाराशर/क्रमांक 968


Secondary Links