रायपुर : हमर छत्तीसगढ़ योजना : विधिक सहायता और शासन की योजनाओं के बारे में जाना पंचायत प्रतिनिधियों ने

 

रायपुर. 06 नवम्बर 2017

हमर छत्तीसगढ़ योजना के आवासीय परिसर नया रायपुर के उपरवारा स्थित होटल प्रबंधन संस्थान में अध्ययन भ्रमण पर आए पंचायत प्रतिनिधियों को विधिक सहायता और शासकीय योजनाओं के बारे में जानकारी दी गई। रायगढ़, कोरबा और कोरिया जिले के करीब 550 पंच-सरपंच दो दिनों के अध्ययन प्रवास पर इन दिनों रायपुर आए हुए हैं। इनमें रायगढ़ के 282, कोरिया के 168 एवं कोरबा के 93 पंचायत प्रतिनिधि शामिल हैं।

      तीनों जिलों के पंच-सरपंचों को पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के विकास विस्तार अधिकारी श्री जे.के. मिश्रा ने दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल विकास योजना के बारे में बताया। उन्होंने जानकारी दी कि ऐसे ग्रामीण युवक-युवतियां जो अपनी पढ़ाई पूरी नहीं कर पाए या जो कोई हुनर सीखकर रोजगार करना चाहते हैं, उन्हें इस योजना के अंतर्गत प्रशिक्षण दिया जाता है। सहायक विकास विस्तार अधिकारी श्री उदयराम कामड़े ने हमर छत्तीसगढ़ योजना के बारे में विस्तार से बताया।

      विधिक सेवा प्राधिकरण के पैनल अधिवक्ता श्री साहिर लुधियानवी खान ने पंच-सरपंचों को बताया कि आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को न्याय दिलाने के लिए शासन द्वारा निःशुल्क विधिक सहायता उपलब्ध कराई जाती है। उन्होंने टोनही प्रताड़ना निरोधक कानून के संबंध में जानकारी दी कि किसी भी महिला को टोनही कहकर प्रताड़ित करना गंभीर अपराध है। ऐसे लोगों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई का प्रावधान है। उन्होंने पंच-सरपंचों को जागरूक करते हुए कहा कि अपने गांव में इस तरह का अन्ध विश्वास न पनपने दें।

क्रमांक-3340/कमलेश


Secondary Links