धमतरी : बीमा कम्पनी के अधिकारी मैदानी अमले से समन्वय स्थापित लंबित राशि का शीघ्र भुगतान करें

कलेक्टर ने मॉनीटरिंग कमेटी की बैठक लेकर की प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की समीक्षा

धमतरी 14 नवम्बर 2017

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के पर्यवेक्षण के लिए गठित मॉनीटरिंग कमेटी की बैठक आज दोपहर कलेक्टर डॉ. सी.आर. प्रसन्ना की अध्यक्षता में आयोजित हुई, जिसमें कलेक्टर ने बीमा कंपनी के अधिकारी को जिले के मैदानी अमले के अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ समन्वय स्थापित कर खरीफ वर्ष 2016-17 के बीमा क्लेम के लंबित प्रकरणों का निबटारा जल्द से जल्द करने के निर्देश दिए। साथ ही आरबीसी 6-4 के प्रकरणों का भी शीघ्र निराकरण करने के लिए निर्देशित किया।
    कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आज दोपहर आयोजित बैठक में उन्होंने योजना के तहत किसानों द्वारा किए गए क्लेम को गम्भीरता से निराकृत करने तथा कृषि और राजस्व विभाग के फील्ड अधिकारियों से सामंजस्य स्थापित कर बीमा योजना के तहत क्षतिपूर्ति के शेष प्रकरणों में तेजी लाने के लिए कहा। कृषि विभाग के अधिकारी द्वारा बैठक में बताया गया कि खरीफ वर्ष 2016 में जिले के कुल 74 हजार 996 किसानों के द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनांतर्गत बीमा कराया गया था, जिनमें 65 हजार 585 ऋणी और 9 हजार 411 अऋणी कृषक सम्मिलित थे। योजना के तहत खरीफ वर्ष 2016-17 में धान फसल के कुल 2336 फसल कटाई का प्रयोग किया गया तथा वर्तमान खरीफ वर्ष 2017 में कुल 2276 प्रयोग किए जाएंगे। उन्होंने यह भी बताया कि वर्ष 2016 में फसल बीमा के अंतर्गत बीमा कंपनी द्वारा पांच असिंचित ग्राम पंचायतांे के किसानों की खड़ी फसल वाले खेतों में पानी भर जाने से बीमा क्लेम के लिए चयनित किया गया। कुरूद विकासखण्ड के ग्राम कठौली, धूमा, मगरलोड के परसट्ठी, मेघा, खट्टी के कुल 140 किसानों में से 68 किसानों को बीमा भुगतान प्रदाय किए जाने की कार्रवाई चल रही है तथा शेष 71 किसानों को आरबीसी 6-4 के तहत लाभान्वित करने फाइल पूर्ण कर ली गई है। बैठक में कृषि एवं अन्य संबंधित विभाग के अधिकारी सहित किसान प्रतिनिधिगण भी उपस्थित थे।
क्रमांक-53/993/सिन्हा


Secondary Links