राजनांदगांव : धान खरीदी कार्य की निगरानी हेतु तहसील स्तरीय उड़नदस्ता दल गठित की जाय: कलेक्टर : समय-सीमा की बैठक में की कार्यों की प्रगति की समीक्षा

राजनांदगांव 14 नवम्बर 2017

कलेक्टर श्री भीम सिंह ने खरीफ विपणन वर्ष 2017-18 के अंतर्गत कल 15 नवम्बर से प्रारंभ हो रहे समर्थन मूल्य पर धान खरीदी कार्य की निगरानी हेतु तहसील स्तरीय दल गठित करने के निर्देश जिले के सभी राजस्व अनुविभागीय अधिकारियों को दिए हैं। कलेक्टर श्री भीम सिंह ने आज 14 नवम्बर को कलेक्टोरेट सभाकक्ष राजनांदगांव में आयोजित साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक में उक्ताशय के निर्देश दिए। इस दौरान कलेक्टर ने जिले में चल रहे विभिन्न विकास कार्यों की प्रगति की भी समीक्षा की। बैठक में अपर कलेक्टर श्री जे.के. धु्रव एवं जिले के सभी राजस्व अनुविभागीय अधिकारियों के अलावा विभाग प्रमुखगण उपस्थित थे।
    बैठक में कलेक्टर ने बताया कि धान खरीदी के कार्य के अंतर्गत जिले में धान की अवैध बिक्री को रोकने हेतु संबंधित राजस्व अनुविभागीय अधिकारियों की अध्यक्षता मंे अनुविभाग स्तरीय उड़नदस्ता दलों का गठन किया गया है। इसके अलावा सभी धान उपार्जन केन्द्रों का नियमित निगरानी हेतु तहसील स्तरीय उड़नदस्ता दल का भी गठन किया जाना अत्यंत आवश्यक है। उन्होंने अनुविभाग एवं तहसील स्तरीय उड़नदस्ता दलों में राजस्व, खाद्य, सहकारिता विभाग के अलावा कृषि उपज मंडी के अधिकारी-कर्मचारियों को सम्मिलित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री सिंह ने कृषि उपज मंडियों से उड़नदस्ता दल हेतु वाहनों की व्यवस्था करने की जानकारी दी। श्री सिंह ने धान खरीदी कार्य से जुड़े सभी विभाग के अधिकारियों को धान खरीदी कार्य की जिम्मेदारियों को पूरी निष्ठा एवं मुस्तैदी के साथ संपादित करने के निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को व्यापारियों, कोचिंयों एवं अन्य किसी भी माध्यम से धान की अवैध बिक्री को रोकने के लिए सभी तैयारियां सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए।
    बैठक में कलेक्टर ने निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेज भवन निर्माण कार्य की समीक्षा करते हुए कार्यपालन अभियंता लोक निर्माण विभाग श्री समय लाल को किसी भी स्थिति में जून 2018 तक भवन निर्माण कार्य को पूरा कराने के निर्देश दिए। इसके अलावा उन्होंने दिग्विजय स्टेडियम पुर्ननिर्माण कार्य, मॉडल बस स्टैण्ड, डोंगरगढ़ पदयात्री मार्ग तथा स्टेट हाई स्कूल राजनांदगांव में पवेलियन निर्माण तथा वहां चल रहे अन्य निर्माण कार्यों की प्रगति समीक्षा करते हुए कार्यों को समय-सीमा में पूरा कराने के निर्देश भी दिए। श्री सिंह ने एशियन डेव्हलपमेंट बैंक तथा छŸाीसगढ़ सड़क विकास निगम द्वारा किये जा रहे सड़क निर्माण कार्यों के अलावा जल संसाधन विभाग के कार्यों के अंतर्गत खैरागढ़ विकासखंड के निर्माणाधीन प्रधानपाठ बैराज एवं मानपुर विकासखंड के औंधी जलाशय के निर्माण कार्यों की प्रगति की भी समीक्षा की। उन्होंने छŸाीसगढ़ विकास निगम के सड़कों के निर्माण कार्य के दौरान क्षतिग्रस्त हुए पाईप लाईन के शिफ्टिंग के कार्यों के संबंध में भी जानकारी ली। कलेक्टर श्री सिंह ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र डोंगरगढ़ में सिजेरियन डिलवरी तत्काल प्रारंभ करने हेतु सभी तैयारियां सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने केन्द्र सरकार द्वारा प्रत्येक घरों में बिजली पहुंचाने हेतु प्रारंभ की गई सौभाग्य योजना के अंतर्गत कैम्प भी लगाने के निर्देश दिए। इसके अंतर्गत उन्होंने निर्धारित तिथि में ऊर्जा उत्सव के आयोजन की तैयारियांे को पूरा करने के निर्देश दिए।
    बैठक में कलेक्टर ने सभी विभाग प्रमुखों को अपने-अपने विभागों के महत्वपूर्ण योजनाओं के होर्डिंग्स लगाने को कहा। कलेक्टर श्री सिंह ने जिले के सभी ग्राम पंचायतों के लिए नोडल अधिकारी  नियुक्त किये गये सभी जिला स्तरीय अधिकारियों को अपने-अपने प्रभार के दो-दो ग्राम पंचायतों का नियमित निरीक्षण कर उप संचालक पंचायत विभाग को रिपोर्ट भी प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। उन्होंने विधवा एवं परित्यक्ता महिलाओं तथा बेसहारा लोगों के समस्याओं के निराकरण एवं उन्हें शासकीय योजनाओं से लाभान्वित करने हेतु शिविर भी आयोजित करने के निर्देश दिए। श्री सिंह ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को इस शिविर में अनिवार्य रूप से उपस्थिति सुनिश्चित कराने को कहा। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत स्वीकृत आवास निर्माण कार्य की प्रगति की समीक्षा करते हुए सभी अप्रारंभ कार्यों को एक सप्ताह के भीतर प्रारंभ करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के प्रकरणों की समीक्षा की। जिल में चल रहे मुख्यमंत्री तीर्थ योजना के कार्यों की समीक्षा करते हुए उप संचालक समाज कल्याण विभाग को इस योजना के लाभ लेने हेतु शेष रह गये ग्राम पंचायतों के हितग्राहियों को तीर्थ यात्रा कराने के निर्देश दिए। इसके अलावा उन्होंने उप संचालक कृषि श्री अश्वनी बंजारा से किसान बाजार के स्थापना के संबंध में भी जानकारी ली।     
क्रमांक 1819चंद्रेश 


Secondary Links