जशपुर : तेन्दुपत्ता बोनस तिहार - 2017 : तेन्दुपत्ता संग्राहको को बोनस वितरण का हुआ शुभारंभ

तेन्दूपत्ता बोनस तिहार में जशपुर के 32 हजार 127 संग्राहकों को दिए जाएगें 5 करोड़  4 लाख 95 हजार

जशपुर 07 दिसम्बर 2017

बोनस तिहार कार्यक्रम कोतबा के हाईस्कूल मैदान में गुरूवार को आयोजित किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि वनमंत्री श्री महेश गागड़ा थे। केन्द्रीय एवं राज्य मंत्री श्री विष्णु देव साय, गृहमंत्री श्री रामसेवक पैंकरा एवं श्रम एवं खेल युवा कल्याण मंत्री श्री भैयालाल राजवाड़े के आतिथ्य में कार्यक्रम सम्पन्न किया गया। इसमें जशपुर जिले के 24 वनोपज समितियों के 32 हजार 127 संग्राहकों को 5 करोड़  4 लाख 95 हजार रूपये तेन्दुपत्ता का बोनस दिया जाएगा। कार्यक्रम वन प्रबंधन समिति सम्मेलन और      जशपुर जिला लघु वनोपज सहकारी यूनियन मर्यादित के सयुक्त तत्वाधान में सम्पन्न हुआ।  
वनमंत्री श्री महेश गागड़ा ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि तेन्दुपत्ता सोना की तरह है। उन्होंने बताया कि तेन्दुपत्ता संग्रहण करने पर पिछले वर्ष 1 बोरी के लिए 1800 रुपए दिए जाते थे जिसे इस वर्ष मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने बढ़ाकर 2500 रुपए कर दिए है। उन्होंने बताया कि जब वह तेन्दुपत्ता तोड़ने जाते थे तो उन्हें 1 बोरी के 10 रूपए दिए जाते थे। उन्होंने मुख्यमंत्री खाद्यान्न योजना अंतर्गत मिल रहे लाभ का विवरण किया।  उन्होंने कहा कि राज्य सरकार सबका साथ सबका विकास की राह पर चलते हुए प्रदेश के हर वर्ग को साथ लेकर उनका विकास करने हेतु कदम उठा रही है। इसी परिपाटी पर चलते हुए विकास के बेमिसाल चौदह साल सरकार ने पूरे कर लिए हैै। और आने वाले समय में भी यह सरकार विकासोन्मुखी कार्य ही करेगी।
केन्द्रीय राज्य मंत्री इस्पात एवं खनिज श्री विष्णु देव साय ने कहा कि वन विभाग के अंतर्गत तेन्दुपत्ता संग्राहकों के लिए कई योजनाओं का संचालन किया जाता है। तेन्दुपत्ता तोड़ने में संग्राहकों को कोई परेशानी न हो इसके लिए चरण पादुका  का वितरण भी किया जाता है। उन्होंने बताया कि तेन्दुपत्ता संग्राहकों के बच्चें उच्च शिक्षा प्राप्त कर सके इसके  लिए भी विभिन्न योजनाएं सरकार के द्वारा संचालित की जा रही हैं। उन्होंने इस अवसर पर  प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी को याद करते हुए कहा कि श्री मोदी जी ने  गरीब परिवारों के लिए कई योजनाएं संचालित की हैं, जिससे उन्हें लाभ मिल रहा है। उन्होने बताया कि सहज बिजली योजनांतर्गत गांव-गांव में सर्वे कर बिजली लगाई जा रही हैै जिससे कि वर्ष 2018 तक हर घर में बिजली पहुंच जाएगी और कोई भी घर अंधेरे में नहीं रहेगा।
गृह मंत्री श्री रामसेवक पैंकरा ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार गांव-गरीब, किसान एवं मजदूरों के विकास के लिए सतत् रूप से प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि किसानों की बेहतरी के लिए उन्हें उन्नत खाद-बीज, सीडलिंग प्लांट, ड्रिप इरिगेशन, सहित आधुनिक कृषि तकनीकी सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है, ताकि उन्हें बेहतर एवं गुणवŸाापूर्ण उत्पादन प्राप्त हो सके। श्री पैंकरा ने कहा  की आज मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह के द्वारा चलाए जा रहे योजनाओं से कई युवाओं को रोजगार मिल रहा है। जिससे की आज प्रदेश में  लोग अपने स्थान से कहीं और पलायन नहीं कर रहे हैं। आज गांव-गांव का विकास हुआ है, आगे और भी विकास होगा। उन्होंने कहा कि  तेन्दुपत्ता का पारिश्रमिक तो मिल गया हैं अब उस पारिश्रमिक का बोनस 5 करोड़ 4 लाख 95 हजार रुपए का बोनस वितरण किया जा रहा है। आगे सरकार के द्वारा तेन्दुपत्ता संग्रहण पर और अधिक बोनस का वितरण किया जाएगा।
खेल एवं श्रम मंत्री श्री भैयालाल राजवाडे ने कहा कि आज हम सभी मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का संदेश लेकर आए है। उन्होंने सभी तेन्दुपत्ता संग्राहकों को तेन्दुपत्ता बोनस तिहार की बधाई दी। अपने उद्बोधन में उन्होंने कहा कि आज सरकार के 14 साल का कार्य काल पूरा हो गया है। इन 14 सालों में हुआ विकास कार्य जनता के सामने है और इसी विकास को आगे भी बनाए रखना ही सरकार की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ की जनता धान बोनस तिहार, तेन्दुपत्ता बोनस तिहार जैसे कई और तिहार आने वाले समय में मनाती रहेगी।
        कार्यक्रम को राज्य लघु वनोपज सहकारी श्री भरत साय, संसदीय सचिव एवं पत्थलगांव विधायक श्री शिवशंकर साय पैंकरा, सरगुजा विकास प्राधिकरण एवं जशपुर विधायक श्री राजशरण भगत एवं कुनकुरी विधायक श्री रोहित साय ने भी संबोधित किया। जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती गोमती साय,  जिला लघु वनो.सह.यूनि. मर्या. श्री रामस्वरूप यादव,  सदस्य महिला आयोग श्रीमती रायमुनी भगत और सामाजिक कार्यकर्ता श्री ओमप्रकाश सिन्हा के विश्ष्टि आतिथ्य एवं जिला पचंायत सीईओ श्री कुलदीप शर्मा एवं वनमण्डलाधिकारी श्री पंकज सिंह राजपूत की उपस्थिति में कार्यक्रम का आयोजन किया गया।
हितग्राही
कार्यक्रम में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत्  5 हितग्राहियों को चाबी एवं 5 आवास मित्रों को टैक सूट एवं प्रमाण पत्र प्रदान किए गए। उज्जवला योजना के तहत् 656 गैस कनेक्शन का वितरण किया गया। कौशल विकास योजना के तहत् 8 हितग्राहियों को प्लेसमेंट प्रमाण पत्र 10 हितग्राहियों को राजमिस्त्री मेशन कीट वितरित किया गया। परियोजना प्रशासक के द्वारा 8-8 हितग्राहियों को छाता रेडियो एवं वाटर फिल्टर वितरण किया गया। श्रम विभाग द्वारा 30 हितग्राहियों को सिलाई मशीन तथा 31 हितग्राहियों को सायकल वितरण किया गया। महिला एवं बाल विकास द्वारा शॉल, बेटी जिन्दाबाद बेकरी तथा रेटी टू ई ट का स्टॉल लगाया गया सर्व शिक्षा अभियान के द्वारा मेरिट में आए तीन बच्चों के पालकों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। इनमें महेन्द्र कुमार बेहरा  के पिता श्री अमृत लाल,पूर्णीमा पैंकरा के पिता श्री तिलक साय पैंकरा एवं फिलकी लहरे के पिता श्री लक्ष्मी लहरे शामिल है। स्वास्थ्य विभाग के द्वारा बीपी शुगर एवं नेत्र जांच निःशुल्क किया गया। कार्यक्रम में निः शुल्क दवाईयां भी वितरित की गई। तेन्दुपत्ता बोनस तिहार के अवसर पर विभिन्न विभागों द्वारा स्टॉल भी लगाए गए।
स.क्र/14/ 


Secondary Links