राजनांदगांव : हमारे वीर जवानों के हाथों देश सुरक्षित: प्रभारी कलेक्टर : सेना झण्डा दिवस पर वीर जवानों के योगदान को किया गया रेखांकित

भूतपूर्व सैनिकों एवं उनके परिजनों को आर्थिक सहायता
एवं चिकित्सीय अनुदान सहायता राशि प्रदान किया गया

राजनांदगांव 07 दिसम्बर 2017

प्रभारी कलेक्टर श्री चंदन कुमार ने कहा कि हमारे देश की सीमाओं पर दिन-रात मुस्तैद रहकर अपने कर्तव्यों का निर्वहन करने वाले हमारे वीर जवानों के कारण ही हमारी देश की सीमाएं सुरक्षित है। इस अवसर पर उन्होंने देश की हिफाजत के लिए अपने सर्वस्व न्योछावर करने सेना एवं अर्द्ध सैनिक बलों के अवदानों को रेखांकित करते हुए उनकी प्रति कृतज्ञता ज्ञापित किया। प्रभारी कलेक्टर श्री चंदन कुमार आज 7 दिसम्बर को कलेक्टोरेट सभाकक्ष राजनांदगांव में आयोजित सशó सेना झण्डा दिवस के अवसर पर अपना उद्गार व्यक्त कर रहे थे। इस अवसर पर संयुक्त कलेक्टर डॉ. रेणुका श्रीवास्तव, जिला सैनिक कल्याण अधिकारी विंग कमांडर ए. श्रीनिवास राव सहित अधिकारीगण उपस्थित थे। कार्यक्रम में भूतपूर्व सैनिकों एवं उनके परिजनों को आर्थिक सहायता राशि एवं चिकित्सा अनुदान सहायता राशि भी प्रदान किया गया। इसके साथ ही कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को विशेष तरह से झण्डे भेंटकर शहीदों के परिवारों के सहायता हेतु धन राशि भी एकत्रित की गई।
    इस अवसर पर प्रभारी कलेक्टर ने देश के रक्षा के प्रति हमारे वीर जवानों के योगदानों पर विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि हमारे देश की सीमाएं एवं आकार विशाल होने के कारण हमारे वीर जवानों की जिम्मेदारियां एवं चुनौतियां भी बहुत बड़ी है। उनकी कर्तव्य निष्ठा एवं मुस्तैदी के कारण हम आज यहां पर सुरक्षित है। उनकी योगदान के कारण हमारे वीर जवानों को देश का प्रत्येक व्यक्ति सम्मान करता है। उन्होंने कहा कि हम सभी के लिए सरहद पर अपने कर्तव्य के लिए दिन-रात डटे रहने वाले वीर जवानों के अलावा उनके परिजन भी हमारे लिए उतने ही सम्मानीय है। श्री कुमार ने कहा कि पूरा देश व समाज हमारे वीर जवानों के साथ है।
    इस अवसर पर जिला सैनिक कल्याण अधिकारी ने सशó सेना झंडा दिवस पर उपस्थित लोगों का स्वागत करते हुए  सशó सेना झंडा दिवस के विषय पर प्रकाश डाला। उन्होंने देश की रक्षा के लिए हमारे वीर जवानों के योगदानों पर प्रकाश डालते हुए शहीद जवानों के प्रति श्रद्धा सुमन भी ज्ञापित किया। श्री श्रीनिवास राव ने सशó दिवस पर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, राज्यपाल एवं रक्षा मंत्री एवं मुख्यमंत्री के संदेशों का भी वाचन किया गया। कार्यक्रम में द्वितीय विश्व के सैनिक श्री अनवर हुसैन, सैनिक विधवा श्रीमती स्वर्ण कौर एवं सवना बाई को आर्थिक सहायता एवं चिकित्सीय अनुदान राशि भी प्रदान किया गया। इसके अलावा एक संतान होने के बावजूद अपने पुत्र को सेना में भेजने वाले माता-पिता को 5 हजार रूपए की सम्मान निधि भेंटकर सम्मानित भी किया गया। कार्यक्रम में जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एल.एस. आंचले, प्रो. पी.डी. सोनकर भूतपूर्व सैनिकों एवं उनके परिजनों के अलावा अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।
क्रमांक 1960चंद्रेश


Secondary Links