बिलासपुर : 97 हजार 379 तेन्दुपत्ता संग्राहकों को 24 करोड़ 58 लाख 82 हजार बोनस वितरण किया जायेगा

बिलासपुर, 07 दिसंबर 2017

बिलासपुर जिले में आयोजित तेन्दुपत्ता बोनस तिहार में 97 हजार 379 तेन्दुपत्ता संग्राहकों को 24 करोड़ 58 लाख 82 हजार रूपये का तेन्दुपत्ता प्रोत्साहन पारिश्रमिक (बोनस) वितरण किया जायेगा।
    डीएफओ मरवाही वनमण्डल ने बताया कि वर्ष 2016-17 में तेन्दुपत्ता संग्राहण करने वाले मरवाही, बिलासपुर, जांजगीर-चांपा और कटघोरा जिला यूनियन के 90 समितियों के 97379 संग्राहकांे को उक्त प्रोत्साहन पारिश्रमिक राशि प्रदान की जायेगी। जिला यूनियन मरवाही के 16 समितियों के 17563 संग्राहकों को 29837518.82 रूपये, बिलासपुर जिला यूनियन के 23 समितियों के 21454 संग्राहकों को 52606705 रूपये, जांजगीर चांपा जिला यूनियन के 7 समितियों के 8059 संग्राहकों को 9351952 रूपये, कटघोरा जिला यूनियन के 44 समितियों के 50303 संग्राहकों को 154086650 रूपये बोनस वितरण किया जायेगा।
    मरवाही में आयोजित बोनस तिहार कार्यक्रम में प्रत्येक समिति के एक-एक संग्राहक को बोनस वितरण किया जायेगा, जिन्हें उच्च बोनस दर भुगतान किया जा रहा है। मरवाही यूनियन के बस्ती समिति के संग्राहक खेमसिंह को 24999 रूपये, उमरखोई समिति की चन्द्राकला को 21542 रूपये, सेमरदर्री समिति की कलावती को 17295 रूपये, केंवची समिति के हीरा सिंह को 15067 रूपये, खोडरी समिति की विमला रोहगी को 13826 रूपये की बोनस राशि प्रदान की जायेगी। इसी तरह कटघोरा जिला यूनियन के लाफा समिति के अमर सिंह को 65277 रूपये, गरसिंया के नोहर सिंह को 58258 रूपये, सेमरा समिति के नारायण सिंह को 51338 रूपये, लाफा समिति के महेत्तर सिंह को 40503 रूपये, तुमान समिति के संतोष कुमार को 38025 बोनस राशि प्रदान की जायेगी। जिला यूनियन बिलासपुर के पुडू समिति के लगन सिंह कोे 47265 रूपये, मझगवां समिति के विजय कुमार को 41120 रूपये, खोंगसरा समिति के बृजलाल को 36109 रूपये, खोंगसरा समिति के मजहर खां को 30951 रूपये, केंदा समिति के तीरथदास को 26083 रूपये की बोनस राशि प्रदान की जायेगी। जिला यूनियन जांजगीर-चांपा के पंतोरा समिति के अद्धसिंह को 14490 रूपये, पहरिया समिति के भोलादास को 11203 रूपये, सक्ती समिति के पंचूराम को 11153 रूपये, पंतोरा समिति के सीलूराम को 10800 रूपये, अकलतरा समिति के हेतराम राज को 7398 रूपये की बोनस राशि प्रदान की जायेगी।         
समाचार क्रमांक/7634/अग्रवाल   


Secondary Links