बिलासपुर : विशेष लेख : जिला रोजगार एवं स्वरोजगार मार्गदर्शन केंद्र संवार रहा बेरोजगारों का भविष्य : कौशल विकास और प्लेसमेंट कैंप के माध्यम से युवाओं नौकरी ढूंढने में हुई आसानी

बिलासपुर 07 दिसंबर 2017

जिला रोजगार एवं स्वरोजगार मार्गदर्शन केंद्र बिलासपुर द्वारा प्रमुख रूप से रोजगार एवं स्वरोजगार के इच्छुक बेरोजगार आवेदकों का पंजीयन, नवीनीकरण, अतिरिक्त योग्यता दर्ज करना, शासकीय एवं निजी नियोजकों द्वारा रिक्तियों की अधिसूचना प्राप्त होने पर योग्यता अनुसार आवेदकों का वरिष्ठता क्रम से प्रस्तुतिकरण आदि कार्य किया जाता है। इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री कौशल विकास एवं एसडीआई योजनांतर्गत प्रशिक्षण एवं रोजगार मेला, प्लेसमेंट कैंप का भी आयोजन किया जाता है। विगत 14 वर्षों में जिला रोजगार एवं स्वरोजगार मार्गदर्शन केंद्र द्वारा अब तक लगभग 3 लाख 77 हजार 541 आवेदक पंजीकृत किये जा चुके हैं। जिनमें से 13 हजार 184 आवेदकों का संप्रेषण किया जा चुका है। विगत 14 वर्षों में कुल 1 हजार 391 आवेदकों को नियुक्ति दी गयी है जिनमें , 106 महिलाओं, 108 अनुसूचित जाति, 130 अनुसूचित जनजाति, 104 अन्य पिछड़ा वर्ग एवं 16 दिव्यांग आवेदकों को नियुक्ति प्रदान की गई है। जिला रोजगार एवं स्वरोजगार मार्गदर्शन केंद्र बिलासपुर में कैरियर काउंसिलिंग हेतु मॉडल कैरियर सेंटर की स्थापना भी की गई है, जिसका उद्देश्य रोजगार इच्छुकों को तकनीक, कैरियर काउंसलिंग एवं प्रशिक्षण आदि का पारदर्शी एवं प्रभावी तरीके से उपयोग करते हुये रोजगार के अवसर उपलब्ध कराना है। मॉडल पोर्टल के माध्यम से पंजीयन एवं रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के साथ ही स्कूल, कॉलेजों में रोजगार मेला एवं प्लेसमेंट कैंप भी आयोजित किये जाते हैं। वर्ष 2011-12 से 2017-18 तक 58 प्लेसमेंट कैंप, रोजगार मेला आयोजित किये जा चुके हैं जिनके माध्यम से 6 हजार 844 आवेदकों का चयन किया गया है। जिला रोजगार एवं स्वरोजगार मार्गदर्शन केंद्र बिलासपुर प्रदेश का एकमात्र रोजगार कार्यालय है जो व्ही.टी.पी. के रूप में संचालित है। यहां बैंकिंग, एकाउंटिंग, टैली, कम्प्यूटर हार्डवेयर, डेस्कटॉप पब्लिसिंग, मोबाइल रिपेयरिंग आदि एमईएस कोर्स में पंजीकृत हैं। व्ही.टी.पी. द्वारा कुल 9 हजार 863 आवेदकों को प्रशिक्षण दिया चुका है, उत्तीर्ण 6 हजार 959 आवेदकों में से 355 आवेदकों का प्लेसमेंट हुआ है। राज्य के बेरोजगार युवाओँ के लिये थल सेना भर्ती रैली का आयोजन प्रतिवर्ष अप्रैल एवं अक्टूबर माह में किया जाता है। रोजगार कार्यालय के माध्यम से आवेदकों का निशुल्क पंजीयन, प्रवेश पत्र का वितरण एवं शारीरिक प्रशिक्षण जिला व ब्लॉक स्तर पर दिनांक 1 मई से 10 मई 2017 के मध्य शिक्षा विभाग के व्यायाम शिक्षकों द्वारा कराया गया। थल सेना भर्ती में  कुल 2 हजार 657 पंजीकृत आवेदकों में से कुल 68 अभ्यर्थी अंतिम रूप से चयनित हो चुके हैं।
समाचार क्रमांक/7635/नितिन  


Secondary Links