बेमेतरा : विधायक ने किया राष्ट्रीय कृमि मुक्ति अभियान का शुभारंभ

बेमेतरा 14 सितम्बर 2021

राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस कार्यक्रम का शुभारंभ कल बेमेतरा शहरी क्षेत्र स्थित शासकीय कन्या स्कूल, बेमेतरा में विधायक श्री आशीष छाबडा एवं नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती शकुंतला साहू जी के गरिमामयी उपस्थिति में किया गया, उक्त कार्यक्रम में जनभगीदारी सदस्य श्रीमति अनुराधा पाण्डेय, पार्षदगण, वरिष्ठ जनप्रतिनिधि, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, जिला टीकाकरण अधिकारी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक, प्राचार्य शासकीय कन्या शाला एवं स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी, शिक्षक, शहरी क्षेत्र बेमेतरा की मितानिन दीदी एवं छात्राएं उपस्थित रहे।
         विधायक द्वारा छात्राओं को संबोधित करते हुए कृमि नाशक दवा क्यो आवश्यक है, इसके बारे में जानकारी देते हुए सभी लक्ष्यित उम्र के छात्र व छात्राओं को दवा सेवन अवश्य किये जाने हेतु प्रेरित किया गया। इसी तारतम्य में नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती शकुंतला साहू जी द्वारा उपस्थित सभी छात्राओं को कृमि नाशक दवा के सेवन व उसके लाभ के संबंध में बच्चों को जानकारी दी गई।
          राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के दिन जिले के समस्त 1 से 19 वर्ष के बच्चों को कृमि नाशक दवा एल्बेन्डाजॉल की गोली मितानिन दीदी एवं आंगनबाडी कार्यकर्तओं के द्वारा गृह भ्रूमण कर खिलाई जायेगी। कृमि नाशक दवा खिलाने के लिए समुदाय स्तर के साथ साथ समस्त विद्यालय, निजी/शासकीय, तकनिकि शिक्षण संस्थान, जो कि वर्तमान में संचालित हो रहे है, वहां छात्र एवं छात्राओं को कृमि नाशक दवा की खुराक खिलाई जायेगी। 1 से 2 वर्ष के बच्चों को आधी गोली चुरा करके एवं 2 से 19 वर्ष के बच्चों को एक पूरी गोली चूरा करके/चबाकर खाये जाने हेतु वितरित किया जायेगा। बच्चों को दवा खिलाने शिक्षा विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग और स्वास्थ्य विभाग की टीम बनाई गई है।
        प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रदीप कुमार घोष ने बताया कि कृमि के वजह से बच्चों में कुपोषण व खून की कमी हो जाती है, कमजोरी, एकाग्रता में कमी होती है, कृमि नाशक दवा सेवन करने से पेट में पनप रहे कृमि को खत्म करेगा, इसके साथ साथ कृमि से बचाव के तरीको के बारे में भी जानकारी दी गई, कृमि से बचाव हेतु आसपास साफ सफाई, नाखुन छोटे रखना, अपने हाथ साबून से धोएं विशेषकर खाना खाने से पहले और शौच के बाद, खने को ढक कर रखना व खुले भोजन नही करना, खुले में शौच न जाना, जूते पहने, हमेशा साफ पानी पीयें, साफ पानी से फल एवं सब्जियों को धोएँ व उपयोग करने की जानकारी दी गई।
          शुभारंभ कार्यक्रम के दौरान श्रीमती अनुपमा तिवारी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक, द्वारा सभी उपस्थित छात्राओं को महावारी स्वच्छता के संबंध में जानकारी दी गई, कि महावार किशोरियों में होने वाली सामान्य (प्राकृतिक) प्रक्रिया है, इससे संबंधित सभी प्रकार की भ्रांति व भ्रम से अवगत कराते हुए उन बातों में ध्यान ना देते हुए अपनी स्वच्छता बनाये रखने संबंधित जानकारी दी गई। उपस्थित मितानिन द्वारा महावारी के दौरान रखने वाली सावधानी एवं स्वच्छता के संबंध में विस्तृत जानकारी दी गई, इस दौरान छात्राओं के द्वारा अपनी स्वयं का अनुभव साथियों को साझा किया गया।


समा.क्र.66

महत्वपूर्ण लिंक