Homeसूरजपुर : विभिन्न पदों हेतु दावा आपत्ति 07 सितम्बर 2012 तक मंगाये गये

Secondary links

Search

सूरजपुर : विभिन्न पदों हेतु दावा आपत्ति 07 सितम्बर 2012 तक मंगाये गये

Printer-friendly versionSend to friend

सूरजपुर 31 अगस्त 2012

    कलेक्टर डॉ. एस. भारती दासन ने बातया है कि जिला कोषालय कार्यालय सूरजपुर स्थापना के अन्तर्गत रिक्त सहायक ग्रेड-3 व भृत्य के पदों पर भर्ती हेतु आवेदन पत्र आमंत्रित किये गये थे। प्राप्त आवेदन पत्रों का परीक्षण कराया जाकर दो भागों क्रमषः पात्र एवं अपात्र अभ्यार्थियों की सूची का प्रकाषन दिनांक 30.08.2012 को कर दिया गया है, जिसे वेबसाईड www.surguja.nic.in एवं www.surguja.nic.in/surajpur में भी देखा जा सकता है। उन्होंने बताया कि दावा आपत्ति हेतु प्रकाषित की जा रही है। यदि किसी अभ्यार्थी को उक्त जानकारी में से कोई प्रविष्टी आपत्ति हो तो दावा आपत्ति मय दस्तावेज कोषालय कार्यालय में दिनांक 07.09.2012 तक कार्यालयीन समय में प्रस्तुत कर सकते हैं। उक्त तिथि के बाद प्राप्त दावा आपत्ति पर कोई विचार नहीं किया जायेगा। पात्र सभी अभ्यार्थियों में से मेंरिट के आधार पर रिक्त संख्या के पांच गुना अभ्याथिर्यों को कौषल परीक्षा हेतु आमंत्रित किया जायेगा। तद्नुसार निम्नानुसार पदों के कौषल परीक्षा हेतु न्यूनतम अंक निर्धारित किया गया है:-
        सहायक ग्रेड-3 के कौषल परीक्षा हेतु निर्धारित न्यूनतम प्रतिषत, वर्गवार हायर सेकेण्डरी परीक्षा के प्राप्तांक के प्रतिषत के आधार पर अनारक्षित-73.40, अजजा-57.00 प्रतिषत निर्धारित है।उन्होने बताया है कि न्यूनतम अंक पाने वाले सभी पात्र अभ्यार्थियों कौषल परीक्षा हेतु पृथक से प्रवेष पत्र जारी किया जा रहा है। जमा किये गये आवेदन पत्र अनुसार रिक्त पदों हेतु जारी प्रवेष पत्र में दिये गये निर्धारित स्थान पर आवेदन पत्र में संलग्न किये गये फोटो के अनुसार ही फोटो चिपका कर अभिप्रमाणित कर उपस्थित होना होगा। सहायक ग्रेड-3, डाटा एंट्री आॅपरेटर हेतु प्रायोगिक-कौषल परीक्षा दिनांक 10 सितम्बर 2012 को अपरान्ह 2.00 बजे से शाम 5.00 बजे तक शासकीय पाॅलिटेक्निक कालेज अम्बिकापुर में आयोजित किया जायेगा।
    कोषालय अधिकारी ने बताया है कि निर्धारित तिथि में प्रवेष पत्र डाक से अप्राप्त होने पर वे कोषालय कार्यालय सूरजपुर में संपर्क कर सकते हैं। कौषल परीक्षा में अनुपस्थित उम्मीदवारों को आगे चयन प्रक्रिया में शामिल नहीं किया जाएगा तथा उनकी उम्मीदवारी निरस्त कर दी जाएगी। ज्ञात हो कि उम्मदवारों को समझाईष दी जाती है कि यह भर्ती प्रक्रिया शासन के निर्देषानुसार पूर्णतः पारदर्षी ढं़ग से किया जा रहा है। अतः किसी भी प्रकार के बहकावे में ना रहें। उन्हें यह भी समझाईष दी जाती है कि इस प्रक्रिया में किसी भी प्रकार का सिफारिष स्वीकार नहीं होगा।

07 सितम्बर से मुआवजा वितरण के सम्बन्ध में शिविर लगाये जाएंगे

कम्पनियां विकासात्मक कार्य करें

सूरजपुर 31 अगस्त 2012

आज जिला कार्यालय के सभाकक्ष में सी.एस.आर सामाजिक सहभागिता उत्तरदायित्व की बैठक में प्रेमनगर विधायक एवं सरगुजा  विकास प्राधिकरण की उपाध्यक्ष रेणुका सिंह, भटगांव विधायक रजनी त्रिपाठी, प्रतापपुर विधायक डॉ. प्रेम साय, एस.ईसी.एल. बिश्रामपुर, भटगांव, सी.एम.डी.सी. शंकरपुर भटगांव 11, सी.एम.डी.सी. तारा पावर प्रोजेक्ट इफको, भास्करपारा कोल परियोजना, मेसर्स अछानी समूह, मेसर्स बेनिका हाइडो पावर प्रोजेक्ट (चिकनी) बैठक सम्पन्न हुयी।  कलेक्टर ने खानों से निकलने वाले ठोस एवं तरल अपषिष्ट पदार्थों से होने वाले प्रदूषण से बचाव के लिए सभी आवष्यक कार्यवाही करने के निर्देष सम्बन्धित खान प्रबंधक के अधिकारियों को दिये हैं उन्होंने कहा कि खान प्रबंधक, उत्खनन एवं परिवहन के दौरान परिवहन की सुरक्षा का ध्यान रखें ताकि पर्यावरण प्रदुषण न हो, कोयला के परिवहन से सड़क के आस-पास घर तथा कृषि भूमि खनिजों के धूल से भर जाते हैं कृषि भूमि में धूल की मोटी परत जमने से उन खेतों में फसल उत्पादन नहीं किया जा सकता है अतएव तिरपाल से ढंके हुए ट्रकों से परिवहन काराया जाये। कलेक्टर ने कहा कि खनिज उत्खनन एवं परिवहन विकासात्मक कार्यों के लिए आवष्यक है लेकिन यह कार्य उस तरह से करें जिससे हवा एवं पानी प्रदुषित न हो तथा स्थानीय लोगों के स्वास्थ्य एवं कृषि कार्यांे पर प्रतिकूल प्रभाव न पड़े। उन्होने खान प्रबंधन सी.एस.आर. से विकासात्मक कार्येां को प्राथमिकता से, आस-पास के लोगों हेतु आधारभूत संरचना निर्माण तथा पेयजल सुविधायें उपलब्ध कराने के निर्देष दिए। उन्होनंे खान प्रबंधन को आवासीय क्षेत्रों में पर्याप्त साफ सफाई करने के निर्देष दिए, गन्दगी के कारण मलेरिया, डेंगू जैसी बिमारियां फैलती हैं अतएव आवासीय परिसर में नियमित रूप से साफ सफाई एवं स्ट्रीट लाईट लगवायें।
    कलेक्टर ने 15-20 वर्षों से लम्बित मुआवजा प्रकरण को शीघ्र निराकरण करने के निर्देष दिए,  इस संबंध में सी.एस.आर प्रबंधन को 10 सितम्बर से ग्राम कमलपुर में षिविर लगानें के निर्देष दिए। षिविर में राजस्व विभाग के अधिकारीयों के साथ पात्र अपात्र की सूची तैयार करेंगे। पात्र हितग्राहियों को मुआवजा वितरण की कार्यवाही की जायेगी।
    सरगुजा विकास प्राधिकरण की उपाध्यक्ष एवं प्रेमनगर विधायक रेणुका सिंह ने कहा कि सूरजपुर में सामाजिक, आर्थिक विकास हो, समृद्ध जिला बने, इसके लिए  जिले में विभिन्न कम्पनियां काम कर रही हैं। इन कम्पनियों से जिले के विकास के लिए आपेक्षा की जाती है कि जिले के चहुमुखी विकास के लिए कार्य करें। सूरजपुर जिले में इन्जोर योजना चल रही हैं जिसमें 33 बच्चे पढ़ाई कर रहे हैं तथा ये बच्चे प्री मैट्रिक छात्रावास मेें रह रहे हैं इन बच्चों के लिए बड़े छात्रावास की आवष्यकता है। धीरे-धीरे बच्चों की संख्या बढ़ती जायेगी सभी कम्पनियां मिलकर एक छात्रावास का निर्माण करायें। उन्होने रेण नदी के किनारे छठ पूजा का आयोजन होता है छठ घाट बनाने के लिए कम्पनीयों से आग्रह किया है। उन्होने जर्जर सड़क मरम्मत के लिए भी कम्पनियों से आग्रह किया है कि भटगांव से सोनगरा मार्ग, आमगांव छ.ग. ढाबा से मानिपुर से साही चैक तक बिश्रामपुर से सूरजपुर एन.एच का मार्ग है मरम्मत करने की आवष्यकता है। भटगांव विधायक रजनी त्रिपाठी ने एस.ई.सी.एल. प्रबंधन को मुआवजा वितरण के संबंध में षिविर लगाकर शीघ्र निराकरण करने के निर्देष दिए हैं। प्रतापुर विधायक डाॅ. प्रेमसाय ने मुआवजा वितरण के संबंध में एकरूपता रहने से कार्यो में भ्रांति नहीं होगी एस.ई.सी.एल अस्पताल में गरीबों के लिए चिकित्सा षिविर लगाकर  निःषुल्क दवा वितरण कराने कहा। बैठक में पुलिस अधीक्षक बालाजी राव ने कहा कि कानून व्यवस्था में सहयोग करेें। जिले में विभिन्न कम्पनियां कार्यरत हैं ये कम्पनियां प्रभावषाली कदम उठायें जिससे उद्योग धन्धे सफलता पूर्वक चले। उन्होने कम्पनियेां से  कम्यूनिटी हाॅल की मरम्मत एवं गेट निमार्ण कराने का आग्रह किया।बैठक में जनप्रतिनिधी, अपर कलेक्टर धर्मेष साहू, खनिज अधिकारी एन. खलखो एवं विभिन्न कम्पनियों के अधिकारी उपस्थित थे।

Date: 
31 Aug 2012