मुख्य सामग्री पर जाएं
स्क्रीन रीडर एक्सेस
सोमवार, 02 अक्टूबर 2023
मुख्य समाचार:

बलौदाबाजार: कलेक्टर ने की सीएसआर से हुए कार्यों की समीक्षा

सीएसआर के तहत निर्धारित राशि से विकास कार्य नहीं होने पर जताई कड़ी नाराजगी

सभी उद्योग स्थानीय लोगों को उपलब्ध कराएं नौकरी एवं रोजगार

वर्ष 2023-24 के लिए नवीन सीएसआर मद 11.10 करोड़ रुपये राशि प्रस्तावित

बलौदाबाजार,13 फरवरी 2023

कलेक्टर रजत बंसल ने आज सँयुक्त जिला कार्यालय के सभागार में विभिन्न उद्योगों के सीएसआर प्रतिनिधियों की बैठक ली। कलेक्टर रजत बंसल ने जिले में विकास कार्यों को बढ़ावा देने के लिए सीएसआर मद से हो रहे विकास कार्यों की विस्तृत समीक्षा। इस दौरान सीएसआर के तहत निर्धारित राशि से विकास कार्य नहीं करनें पर कड़ी नाराजगी जताई.साथ ही सभी कम्पनी प्रतिनिधियों को स्थानीय लोगों को नौकरी एवं रोजगार उपलब्ध कराने वके निर्देश दिए है। श्री बंसल ने कहा बलौदाबाजार-भाटापारा बड़ा जिला है। शासन प्रशासन जिले के विकास के लिए लगातार कार्य कर रहे है जिले के तेजी से विकास के लिए उद्योग की भागीदारी आवश्यक है। शासन व नीति आयोग के निर्देशानुसार सीएसआर मद से होने वाले कार्यों में शिक्षा, स्वास्थ, स्कील डेवलपमेंट व संस्थागत विकास को प्रमुखता के साथ शामिल किया जाए। इन क्षेत्रों में विकास कार्य करने के लिए कंपनियां आगे आएं और सीएसआर मद के बजट से मदद करें। सीएसआर मद से विकास नही होने पर जताई कड़ी नाराजगी, दिए जल्द कार्य पूर्ण करने के निर्देश बैठक में अधिकारियों को कहा कि जिले के विभिन्न सीमेंट संयंत्रों के द्वारा वर्ष 2022-23 में सीएसआर के तहत 10.56 करोड़ रुपये विभिन्न कार्य स्वीकृत किए थे। जिसमें से सभी उद्योगों को सीएसआर फंड के तहत शासन द्वारा 3.25 करोड़ के कार्य सौंपे गए थे। जिसमें 2.02 करोड़ का कार्य पूर्ण हुआ है। और 1.47 करोड़ का कार्य अभी भी शेष रह गया है। बचे हुए सीएसआर राशि की जल्द से जल्द वित्तीय वर्ष समाप्ति के पूर्व कार्य कराने के निर्देश दिए। उक्त कार्यों में अंबुजा सीमेंट संयंत्र रवान द्वारा 3 करोड़,अल्ट्राटेक हिरमी द्वारा 2 करोड़,अल्ट्राटेक रावन 1.7 करोड़,न्यू विस्टा रिसदा द्वारा 1.5 करोड़, एवं श्री सीमेंट खपराडीह के द्वारा 1.5 करोड़ के कार्य निष्पादित किए गए थे। कलेक्टर ने सभी प्लांट के अधिकारियों को साफ तौर पर कहा कि स्थानीय लोगों को रोजगार उपलब्ध कराए युवाओं को उनकी योग्यता के हिसाब से कुशल, अर्धकुशल, अकुशल वर्ग में नौकरी दिया जाए. एवं सभी सीमेंट प्लांट के अधिकारियों से विभिन्न प्लांटो में नौकरी पर रखे स्थानीय व्यक्तियों की आंकड़े समय सीमा पर उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। ताकि स्थानीय लोगों के रोजगार का  वास्तविकता से प्रमाणित हो सके। इसके साथ ही उक्त कार्य की कड़ी निगरानी करने के निर्देश कलेक्टर ने सम्बंधित अधिकारियों को दिए है. ताकि सीएसआर मद से बचे हुए विकास कार्य को पूर्ण किया जाए। जिले में अभी तक क्या क्या कार्य हुए है और कितने कार्य अपूर्ण है सभी जानकारी उपलब्ध कराने की बात कही। वर्ष 2023-24 के लिए नवीन सीएसआर मद 11.10 करोड़ राशि प्रस्तावित की गई है। जिसके लिए प्रशासन 12 महीनों का वार्षिक कैलेंडर कार्य बनाएंगे जिसमें हर 4 माह के लिए कार्य निर्धारित किया जाएगा। सीएसआर मद के तहत पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए वृक्षारोपण पर विशेष कार्य के साथ सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं के तहत ग्राम स्तर पर कार्यक्रम कराने तथा जिला स्तर पर बड़े विविध जागरुकता कार्यक्रम आयोजित किए जाने की बात कही। उक्त बैठक में विभिन्न प्लांटो के सभी सीएसआर अधिकारियों के साथ एडीएम राजेंद्र गुप्ता, जिला व्यापार एवं उद्योग महाप्रबंधक लकड़ा, जिला खनिज अधिकारी के. के. बंजारे उपस्थित रहे।

चक्रधारी/28