मुख्य सामग्री पर जाएं
स्क्रीन रीडर एक्सेस
मंगलवार, 06 जून 2023
मुख्य समाचार:

रायगढ़ : केसीसी बनवाने बड़ी संख्या में पहुंचे किसान

शिविर के पहले दिन 143 किसानों ने केसीसी के लिए जमा किया आवेदन

रायगढ़, 13 मार्च 2023

कलेक्टर श्री तारन प्रकाश सिन्हा के निर्देशन एवं सीईओ जिला पंचायत श्री अबिनाश मिश्रा के मार्गदर्शन में आज जिले के सभी जनपद पंचायत में किसान क्रेडिट कार्ड बनाने हेतु शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें किसानों की भारी भीड़ रही और यहां सैकड़ों किसानों ने क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन जमा किया। जहां उपस्थित अधिकारियों-कर्मचारियों ने आवेदकों से फार्म भरवाया। शिविर में कृषि, पशुपालन, हार्टीकल्चर, मत्स्य सहित अन्य संबंधित विभाग के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे। शिविर के प्रथम दिन आज जिले से कुल 143 किसानों ने किसान के्रडिट कार्ड के लिए आवेदन जमा किया है। जिसमें गौ पालन के 37, मत्स्य के 37, उद्यानिकी के 48 एवं कृषि के 21 आवेदन प्राप्त हुए। यह शिविर आगामी 31 मार्च तक प्रत्येक सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को लगाए जायेंगे।

ज्ञात हो कि किसानों को कृषि कार्यों के लिए ऋण की आवश्यकता होती है। इसे देखते हुए राज्य शासन की ओर से किसान क्रेडिट कार्ड धारकों को सहकारी बैंक से सस्ता ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। इसके लिए केसीसी बनाने का काम जारी है। जिसके लिए शिविर लगाए जा रहे है, जिसके माध्यम से किसान अपना क्रेडिट कार्ड बनवा सकता है।

जनपद पंचायत रायगढ़ में आयोजित शिविर में आये सहसपुरी निवासी श्री खेमराज यादव ने बताया कि जिला प्रशासन की यह अच्छी पहल है। जहां शिविर के माध्यम से केसीसी कार्ड बनाने हेतु आवेदन लिए जा रहे है। उन्होंने बताया कि केसीसी के माध्यम से यहां हम जैसे किसानों के लिए गाय एवं मछली पालन, सब्जी उत्पादन के लिए शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर ऋण उपलब्ध हो जाता है। शिविर में पहुंची टारपाली निवासी श्रीमती भालकुनी राठिया ने बताया कि वह कृषि कार्य से ही अपना व परिवार का पालन-पोषण करती हैं। कभी-कभी पैसे के अभाव में फसल, बीज या खाद खरीदने में कठिनाई हो जाती है। शासन द्वारा अगर केसीसी ऋण योजना का लाभ मिलता है तो वे प्राप्त राशि से वह बीज या खाद खरीदेंगी। इसी तरह ग्राम सहसपुरी से किसान श्री संजय चौहान पहुंचे हुए थे। उन्होंने बताया कि ग्राम के कोटवार के माध्यम से हमें यह जानकारी मिली कि यहां किसान क्रेडिट कार्ड के लिए शिविर लगाया जा रहा है। यहां आने से मुझे पता चला कि अलग-अलग कार्यो हेतु केसीसी जारी किया जा रहा है। जिसमें खेती से भी ज्यादा लाभ उद्यानिकी फसलों में मिल रहा है। जिसके लिए मैने आवेदन जमा किया। उन्होंने अपने क्षेत्र एवं आसपास के किसानों को भी शासन की इस योजना का लाभ उठाने हेतु आग्रह किया है।

जनपद सीईओ श्री रूपेन्द्र पटेल ने बताया कि कलेक्टर श्री सिन्हा के निर्देशन में आज से किसान के्रडिट बनाने हेतु जिले के जनपद पंचायत कार्यालय में शिविर का आयोजन किया जा रहा है। यह शिविर आगामी 31 मार्च तक प्रत्येक सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को लगाए जायेंगे। ताकि अधिक से अधिक किसान यहां उपस्थित होकर केसीसी बनवा सकते है। उन्होंने बताया कि किसान क्रेडिट कार्ड योजना से किसान कम ब्याज दरों में कृषि व संबंधित कार्यों के लिए बैंको से ऋण ले सकते हैं। जिससे उन्हें अपने खेती-किसानी के कामों के लिए कार्यशील पूंजी मिल जाती है। केसीसी से किसानों को कृषि कार्यों के लिए ब्याजमुक्त अल्पकालीन ऋण मिलता है। पशुपालन, मछली पालन और उद्यानिकी कार्यों के लिए भी अल्पकालीन ऋण दिया है। पशु पालन हेतु 2.00 लाख तक का ऋण 1 प्रतिशत ब्याज दर पर एवं रूपये 2 लाख से अधिक एवं रूपये 3 लाख तक के ऋण 3 प्रतिशत ब्याज दर पर दिया जाता है। मत्स्य पालन व उद्यानिकी कार्यों हेतु 3 लाख तक दिये जाने वाला ऋण, अल्पकालीन कृषि ऋण के समान ब्याज मुक्त (0 प्रतिशत ब्याज दर) होता है।

शिविर में इन दस्तावेजों की होगी जरूरत
अपेक्स बैंक के नोडल अधिकारी ने बताया कि शिविर में केसीसी बनवाने के लिए फोटो, आधार कार्ड और बी-1 की कॉपी लगेगी। यदि हितग्राही किसी सहकारी समिति का सदस्य नहीं है तो 110 रुपए शुल्क देय होगा।

स.क्र./50/ राहुल