मुख्य सामग्री पर जाएं
स्क्रीन रीडर एक्सेस
सोमवार, 11 दिसंबर 2023
मुख्य समाचार:

कोण्डागांव : हरेली के साथ ही प्रारंभ होगा छत्तीसगढ़िया ओलंपिक

कलेक्टर ने समय-सीमा बैठक में दिए तैयारी के निर्देश
कोण्डागांव, 11 जुलाई 2023

हरेली के अवसर पर जहां छत्तीसगढ़ में पर्वों का आरंभ होता है, वहीं इस पर्व में छत्तीसगढ़िया ओलंपिक के तौर पर पारंपरिक खेलों की भी शुरुआत होगी, जो इस पर्व के उत्साह को और अधिक बढ़ा देगी। कलेक्टर श्री दीपक सोनी ने मंगलवार को जिला कार्यालय के प्रथम तल में आयोजित समय सीमा बैठक में खेलों के आयोजन के लिए तैयारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इन खेलों में शामिल होने वाले खिलाड़ियों के साथ ही व्यायाम शिक्षकों की जानकारी भी तैयार रखें। उन्होंने इन खेलों के पूर्व खिलाड़ियों का वार्म अप कराने और सुरक्षा का विशेष ध्यान रखने का निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इन खेलों में पूरी तरह से फिट खिलाड़ियों को ही शामिल करें और खेलों के दौरान खिलाड़ियों में प्रतियोगी के साथ ही मित्रतापूर्वक व्यवहार रहे।
उन्होंने कहा कि इसके साथ ही रोका छेका अभियान प्रारंभ किया जाएगा, जिसके लिए सभी पंचायतों मंे पशु प्रबंधन के लिए चर्चा करने हेतु बैठक आयोजित करें। उन्होंने पशु चारे की व्यवस्था के लिए नेपियर और मक्का लगाने के निर्देश भी दिए।
कलेक्टर श्री सोनी ने कहा कि मावा कोंडानार एप्प में दर्ज आवेदनों के आधार पर जिला प्रशासन द्वारा लोगों की आकांक्षाओं और समस्याओं का विश्लेषण जिला प्रशासन द्वारा किया जा रहा है। उन्होंने जनता की मांग, सलाह और शिकायतों पर त्वरित और गुणवत्तापूर्ण कार्यवाही के निर्देश दिए। राशन कार्ड, पेंशन संबंधी आवेदनों के 15 दिनों के भीतर निराकरण के लिए शिविरों का आयोजन करने के निर्देश उन्होंने दिए।
कलेक्टर ने इस दौरान गौठान मितानों की बैठक करने और उत्कृष्ट कार्य करने वाले गौठान मितानों को सम्मानित करने के निर्देश दिए। उन्होंने अमृत सरोवर, चारागाह विकास और रीपा निर्माण, देवगुड़ी और घोटूल निर्माण कार्य के प्रगति की भी समीक्षा की। उन्होंने अंचल के प्रगतिशील कृषक श्री राजाराम त्रिपाठी के मॉडल अनुसार कृषि को बढ़ावा देने के साथ ही उसके प्रसंस्करण के माध्यम से स्थानीय लोगों की आय को बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होंने इसके लिए किसानों के उत्पादक समूहों के गठन के संबंध में निर्देशित किया। उन्होंने विभिन्न विभागों द्वारा संचालित योजनाओं के माध्यम से मिलेट्स के उपयोग को बढ़ावा देने के निर्देश भी दिए।
कलेक्टर ने बताया कि जिले में 5 वन अधिकार आदर्श ग्राम बनाए जाएंगे। इन ग्रामों में सभी वन अधिकार प्राप्त हितग्राहियों को पंचायत एवं ग्रामीण विकास, कृषि, उद्यानिकी, मत्स्यपालन, पशुपालन विभाग द्वारा संचालित योजनाओं के साथ ही केसीसी, आयुष्मान कार्ड और राशन कार्ड सहित अन्य योजनाओं से लाभान्वित करने और वन विभाग की योजनाओं के तहत अधिक से अधिक वृक्षारोपण करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही युवाओं को स्वरोजगार हेतु प्रशिक्षण प्रदान करने के निर्देश भी दिए।
क्रमांक-620/अर्जुन